जनरल स्टॉफ-II

रक्षा (जीएस II)

  1. सेना में प्रशिक्षण, भारत से बाहर सेना कार्मिकों/सिविल अधिकारियों को प्रशिक्षण, सेना कैडेट कोलेज, अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी, राष्ट्रीय भारतीय सैन्य अकादमी, राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, (एनडीएल) (http://nda.nic.in ), भारतीय सैन्य अकादमी मिलिट्री स्कूलों, राष्ट्रीय रक्षा कालेज, (एनडीसी), (http://ndc.nic.in), रक्षा सेना स्टाफ कालेज (डीएसएससी), (http://www.dssc.gov.in) और भारतीय सेना के अन्य प्रशिक्षण प्रतिष्ठानों से संबंधित मामले।
  2. रक्षा क्षेत्र में केन्द्रीय विद्यालय खोलने के लिए रक्षा भूमि का हस्तांतरण ।
  3. फील्ड फायरिंग रेंजों, विदेशी/भारतीय अति विशिष्ट व्यक्तियों का दौरा, प्रशिक्षण संस्थानों के लिए टीम, सैन्य प्रशिक्षण प्रतिष्ठानों में अर्द्ध सैनिक बलों के कार्मिकों को प्रशिक्षण, रक्षा सेनाओं के साथ भारतीय प्रशासनिक सेवा/आईपीएस/आईएफएस अधिकारियों की तैनाती, रक्षा सहयोग, कैट 'ए' प्रतिष्ठानों का आधुनिकीकरण, राष्ट्रीय राइफल एसोसिएशन संबंधी सभी मामले ।
  4. संयुक्त, सैन्य प्रशिक्षण सहायता योजना (यूकेएमटीएएस) और संयुक्त राष्ट्र सैन्य शिक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम (यूएसएमईटीपी) के अंतर्गत रक्षा अधिकारियों द्वारा पाए जाने वाले पाठ्यक्रमों को अंतिम रूप देना ।
  5. सेना में प्रशिक्षण पद्धति संबंधी नीति ।
  6. रक्षा प्रबंधन कालेज (सीडीएम), सिकंदराबाद (http://cdm.ap.nic.in ).से संबंधित सभी प्रशासनिक कार्य और पाठ्यक्रमों का आयोजन ।
  7. सेना शिक्षा कोर और सेना शारीरिक प्रशिक्षण कोर के स्थापना संबंधी मामले ।
  8. विदेशी भाषा स्कूल, सेनाओं और सिविल अधिकारियों के लिए विभिन्न भाषा पाठ्यक्रमों का आयोजन।
  9. इतिहास प्रभाग से संबंधित सभी मामले ।


अनुभाग अधिकारी अवर सचिव निदेशक
(क) श्री अनिल कुमार दांड
(ख)श्रीमती किरण माला

टेली: 2301 2225

इंटरकोमः 4445

कमरा नं. 203, साउथ ब्लॉक

श्री एन. बी. मणि



टेलीः 230122938 इंटरकामः 4334

कमरा नं. 116, 'बी' विंग सेना भवन

श्री रविन्द्र प्रसाद



टेली: 2301 0600 इंटरकोमः : 4278

कमरा नं. 23, साउथ ब्लॉक

टिप्पणीः सेना के विभिन्न प्रशिक्षण प्रतिष्ठानों के बारे में और अधिक जानकारी के लिए www.indianarmy.gov.in पर क्लिक करें ।

इतिहास प्रभाग

  1. युद्ध संबंधी डायरियों/आपरेशनल रिकार्डों और भारतीय सशस्त्र सेनाओं की यूनिटों और विभिन्न फारमेशनों से प्राप्त अन्य सैन्य दस्तावेजों का संरक्षण और अनुरक्षण संबंधी सभी मामले ।
  2. भारतीय सशस्त्र सेना द्वारा लड़े गए युद्धों का इतिहास लिखना । इसमें भारतीय सशस्त्र सेनाओं द्वारा समय समय पर विभिन्न देशों में आयोजित किए गए शांति आपरेशन शामिल हैं ।
  3. सेना रेजिमेंटों और वायु सेना स्क्वाड्रनों की इनके इतिहासों को संकलित करने में मार्ग दर्शन और सहायता करना।
  4. युद्ध आनर्स कार्य में सेना मुख्यालयों की सहायता करना, सैन्य दौत्य कला संबंधी सभी मामलों में तीनों सेनाओं और रक्षा मंत्रालय को सलाह देना ।


उप निदेशक निदेशक

श्री ओम शंकर

टेलीः : 2610 4061 कमरा नं. डब्ल्यूबी-8, विंग-1, आर. के. पुरम

श्रीमती रीवा धानेधर
टेलीः 26102067 26104061
कमरा नं. डब्ल्यूबी-8, विंग-1, आर. के. पुरम

विदेशी भाषा स्कूल

  1. विदेशी भाषा स्कूल तीनों सेनाओं के कार्मिकों को 18 विदेशी भाषाओं में प्रशिक्षण प्रदान करता है ।
  2. यह भारत सरकार के अन्य मंत्रालयों और विभागों की आवश्यकताओं को पूरा करता है । इसके अतिरिक्त दक्षता प्रमाण पत्र, एडवाँस्ड डिप्लोमा, और इंटरप्रेटरशिप पाठ्यक्रमों के लिए सिविल विद्यार्थियों को भी प्रवेश दिया जाता है । विदेशी भाषा स्कूल में नियमित आधार पर 18 भाषाएं अर्थात अरबी, बहासा, इंडोनेशियाई, बर्मीज, चीनी, फ्रेंच, जर्मन, परशियन, पश्तो रूसी, स्पैनिश, सिनहाला, तिब्बती, जापानी, थाई, मलय, हिब्रू, वियतनामी, और पाक उर्दू पढ़ाई जाती है ।
  3. विदेशी भाषा स्कूल रक्षा संस्थानों जिनमें राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खड़गवासला और सेना शिक्षा कोर प्रशिक्षण केन्द्र एवं कालेज, पचमढ़ी में विदेशी भाषाएं पढ़ाई जाती हैं के लिए नियंत्रण संगठन है ।
  4. यह परीक्षाएं आयोजित करता है और सफल उम्मीदवारों को डिप्लोमा प्रमाण पत्र प्रदान करता है ।
  5. भारतीय विदेश सेवा के परिवीक्षाधीन उम्मीदवारों के लिए इस संस्थान द्वारा आयोजित एडवांस्ड डिप्लोमा (आईएफएस)परीक्षाएं उत्तीर्ण करना अनिवार्य है ।
  6. विदेशी भाषा स्कूल पूरे देश में विभिन्न सेना यूनिटों में रेजिमेंटल भाषा नेपाली में परीक्षा भी आयोजित करता है ।


उप निदेशक निदेशक

श्री के. गिरिधरन

टेलीः 24619222
25, लोदी इस्टेट

श्री एल आर तांडेकर,

टेलीः 24619222
25, लोदी इस्टेट

टिप्पणीः और अधिक जानकारी के लिए www.sflmod.nic.in पर क्लिक करें ।