Ministry of Defence
  English
 
भारत सरकार भारत और उसके प्रत्येक भू-भाग की रक्षा सुनिश्चित करने के लिए उत्तरादायी है । महामहिम राष्ट्रपति सशस्त्र सेना के सर्वोच्च कमांडर हैं । राष्ट्रीय सुरक्षा का उत्तरदायित्व मंत्रिमंडल का है । इसका निर्वहन रक्षा मंत्रालय के माध्यम से किया जाता है, जो देश की रक्षा के संदर्भ में सशस्त्र सेनाओं के उनके दायित्वों के निर्वहन में नीतिगत ढांचा और साधन उपलब्ध कराता है । रक्षा मंत्री, रक्षा मंत्रालय के मुखिया हैं । रक्षा मंत्रालय का प्रमुख कार्य रक्षा और सुरक्षा से संबंधित सभी मामलों पर सरकार के नीतिगत निर्देश प्राप्त करना और उन्हें कार्यान्वित करने के लिए सेना मुख्यालयों, अंतर-सेवा संगठनों, उत्पादन स्थापनाओं तथा अनुसंधान और विकास संगठनों को उनके बारे में सूचित करना है । सरकार के नीतिगत निर्देशों का प्रभावी कार्यान्वयन और आवंटित संसाधनों के भीतर अनुमोदित कार्यक्रमों का निष्पादन सुनिश्चित करना भी अपेक्षित है । रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत चार विभाग शामिल हैं, अर्थात रक्षा विभाग, रक्षा उत्पादन विभाग, रक्षा अनुसंधान और विकास विभाग तथा भूतपूर्व सैनिक कल्याण विभाग । इसके अतिरिक्त वित्त प्रभाग भी है ।